रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया – RBI

जय हिन्द दोस्तो ,  स्वागत है आप सभी का The Guru Shala  पर आज हम आपको रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया – Reserve Bank Of India – RBI बताने जा रहे हैं , जो की Complete Topic Wise रहेगा जिसमे  हम  आपको  Topic  complete  होने  पर उस Topic के Importent MCQ देगे जिसका आने बाले सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में पूंछे जाने की पूरी पूरी संभावना है ! तो आप सभी से निवेदन है कि इसे अच्छे से पढिये और याद कर लीजिये !

RBI बैंक का इतिहास :

  • 1930 की महामंदी का भारतीय अर्थव्यवस्था एवं भारतीय बैंक व्यवस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा।
  • जिसकी समीक्षा के लिए एक समिति का गठन किया गया जिसे यंग हिल्टन समिति का नाम दिया गया।
  • इसी समिति की अनुसंशा पर 1934 में भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम पारित किया गया।
  • अधिनियम के आधार पर 1 अप्रैल 1935 को भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना की गई।
  • स्थापना के समय जिसका कार्यालय कलकत्ता में था जिसे 1937 में मुंबई स्थानातरित कर दिया गया।
  • 1 जनबरी 1949 को RBI का राष्ट्रीयकरण कर दिया गया।
  • उपनाम : बैंको का बैंक, केन्द्रीय बैंक, सरकार का मुख्य बैंक

Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Facebook Page को भी Join कर सकते हैं !

RBI के प्रमुख गवर्नर :

  • RBI के प्रथम गवर्नर : सर ओसवार्न आरकेल स्मिथ
  • RBI के प्रथम भारतीय गवर्नर : सी. डी. देशमुख (1943 – 1949) पूरा नाम : चिंतामणी व्दारकानाथ देशमुख
  • स्वतंत्र भारत के RBI प्रथम गवर्नर : सी. डी. देशमुख
  • गणतंत्र भारत के प्रथम RBI गवर्नर : बी. आर. राव (1949 – 1952) पूरा नाम : बेनेगल रामा राव
  • RBI के 15 वें गवर्नर : डॉ. मनमोहन सिंह (1982 – 1985)
  • एक मात्र प्रधानमंत्री जिनके हस्ताक्षर भारतीय नोटों पर है : डॉ. मनमोहन सिंह

RBI से सम्बन्धित अन्य बातें :

  • RBI लेखा बर्ष : 1 जुलाई से 31 जून तक
  • RBI ने 1948 तक पाकिस्तान के लिए केन्द्रीय बैंक के रूप में कार्य किया है।
  • 1 जुलाई 1948 को पाकितान के कराची में केन्द्रीय बैंक पाकिस्तान स्थापना की गई।
  • 1 अप्रैल 1957 में RBI ने मुद्रा की दशमलव प्रणाली को अपनाया।
  • 1 जुलाई 2011 से देश में 25 पैसे व इससे कम मूल्य के सभी सिक्के प्रचलन में औपचारिक रूप से अमान्य कर दिए गये।
  • 2 या इससे अधिक के नोटों को छापने का कार्य RBI करता है एवं इस पर हस्ताछर RBI गवर्नर करता है।
  • 1 रुपया के नोट वित्त मन्त्रालय व्दारा छापे जाता जिस पर वित्त सचिव के हस्ताछर होता है।
  • भारत का सबसे बड़ा बैंक RBI बैंक है। Reserve Bank Of India

RBI के प्रमुख कार्य :

  • RBI सभी बैंको पर नियंत्रण रखती है।
  • कोई भी बैंक RBI की अनुमति से शाखा स्थानातरित नहीं कर सकती है ।
  • भारत में विदेशी व्यापर से सम्बन्धित आकडे RBI व्दारा एकत्रित व प्रकाशित किये जाते है।
  • नोट निर्गमित करने का अधिकार भी RBI के पास होता है।
  • CRR, SLR आदि का निर्धारण RBI व्दारा ही होता है।
  • RBI सिक्के निर्गमित नहीं करता है, यह कार्य वित्त मंत्रालय व्दारा होता है।
  • मुद्रा योजना बनाने का कार्य RBI व्दारा होता है।
  • RBI सरकार को ऋण देने का कार्य करती है।
  • मुद्रा आपूर्ति को नियंत्रत करी है।

Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को भी Join कर सकते हैं !

 भारतीय मुद्रा प्रेस :

  1. नासिक- महाराष्ट्र
  2. देवास – मध्यप्रदेश  Reserve Bank Of India 

 भारतीय सिक्को की टकसाल :

  1. नोयड़ा – उत्तरप्रदेश
  2. मुंबई – महाराष्ट्र         
  3. हैदराबाद – तेलंगाना
  4. 4. कोलकाता – पं. बंगाल

RBI से सम्बन्धित शब्दाबली :

  • बैंक दर(Bank Rate) :                                           
  • ब्याज की वह दर जिस दर पर केन्द्रीय बैंक अन्य बैंको को ऋण उपलब्ध करती है, उसे बैंक दर कहा जाता है। Reserve Bank Of India
  • सामान्यत: ऐसे ऋण दीर्घकालीन होते है।
  • प्रत्येक तीन माह में इसमें परिवर्तन होते है।
  • जब बैंक दर में कमी या बढोत्तरी होती है तो इसका प्रभाव बाज़ार पर पड़ता है।
  • बैंक दर कम होने पर बाज़ार में पैसा बड जाता है और बैंक दर अधिक होने पर बाज़ार में पैसा घट जाता है।
  • नगद कोष अनुपात(CRR) :
  • पूरा नाम : Cash Reserve Ratio
  • प्रत्येक अनुसूचित बैंक को अपनी कुल जमा राशि का एक निश्चित प्रतिशत RBI के पास नगद रूप में रखना अनिवार्य होता है, जिसे नगद कोष अनुपात कहा जाता है।
  • वैधानिक कोष अनुपात(SLR) :
  • पूरा नाम : Statutary Liqudity Ratio
  • प्रत्येक अनुसूचित बैंक अपनी कुल जमा राशि का एक निश्चित प्रतिशत (CRR के अतरिक्त) स्वयं के पास नगद रूप में रखना अनिवार्य होता है, जिसे वैधानिक कोष अनुपात कहा जाता है।
  • Reverse Repo Rate :
  • पूरा नाम : Reverse Repurchase Option rate
  • जिस दर से वाणिज्यिक बैंक RBI को अल्प कालीन ऋण देते है, उसे Reverse Repo Rate कहा जाता है।

(5) Repo Rate :                                                       

  • पूरा नाम : Repurchase Option Rate
  • जिस दर पर प्रत्येक वाणिज्यिक बैंक व्दारा RBI से अल्प कालीन ऋण लिया जाता है, उसे Repo Rate कहा जाता है।
  • इन दरों में हमेशा 0.25 का अंतर होता है।
  • इनमें प्रत्येक तीन माह में परिवर्तन होता है। Reserve Bank Of India
  • Reverse Rate Rate कम होता है।

(6). न्यूनतम सीमा(Minimum Limit or Margin) :                                      

  • बैंक कभी भी मागें गयें ऋण के बराबर राशि उपलब्ध नहीं करता है। हमेशा उससे कम ऋण राशि ही उपलब्ध की जाती है, इसी अंतर को ही न्यूनतम सीमा कहा जाता है।

(7). न्यूनतम आरक्षित पध्दति(MRS) :                                       

  • पूरा नाम : Minimum Reverse System
  • RBI व्दारा नोट निर्गमित करने के लिए न्यूनतम आरक्षित पध्दति का प्रयोग करती है।
  • जिसमें कम से कम कुल मिलाकर 200 करोड़ की राशि जमा करना होता है।
  • 115 करोड़ का सोना धातु और 85 करोड़ की विदेशी मुदा व विदेशी प्रतिभूतिया जमा होना चाहिए।
  • इससे अधिक राशि होने पर अधिक राशि के नोट निर्गमित कर दिये जाते है।

ECONOMY TOPIC WISE

ALL GK TRICKS 

  GEOGRAPHY 

आपके आने वाले Exams के लिये आप सभी को The गुरुशाला की तरफ़ से All The Best ! और इस Post को अधिक से अधिक Facebook व Whatsapp पर शेयर कीजिये ! क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *